Tuesday, June 7, 2016

नैनो तकनीक के उपयोग से रोग निदान होगा सस्ता


नैनो तकनीक से जीवन को आसान बनाया जा सकता है एवं अनेक समस्याओं का समाधान भी किया जा सकता है, यह कहना है नैनो वैज्ञानिक सचिन दुबे का. उन्होंने बताया की भारत में महिलाओं में मूत्राशय का संक्रमण एक बहुत ही आम बात है परन्तु इसका निदान बहुत ही महंगा है एवं इसमें समय भी बहुत ज्यादा लगता है. उन्होंने एक ऐसी तकनीक विकसित की है जिससे मात्र २० मिनट में एवं बहुत ही कम खर्चे में इस रोग का निदान हो सकता है. सामान्यतः इस के निदान (डायग्नोसिस) में ४ दिन का समय लगता है. 
Sachin dube and Darshan Kothari, Entrepreneurship and managerial skills Development program at Vardhaman Infotech
नैनो वैज्ञानिक सचिन दुबे एवं दर्शन कोठारी 
श्री सचिन दुबे ने इस तकनीक के लिए भारत में पेटेंट भी प्राप्त कर लिया है एवं अमरीका एवं यूरोप के में पेटेंट के लिए आवेदन दिया हुआ है. इस संक्रमण के परीक्षण के लिए उन्होंने एक बहुत ही सस्ता संयंत्र बनाया है। वे वर्धमान इंफोटेक, जयपुर द्वारा आयोजित उद्यमिता एवं प्रवंधन कौशल विकाश कार्यक्रम में बोल रहे थे. उन्होंने विद्यार्थियों एवं युवा उद्यमियों को शोध कार्य में आगे आने, नई तकनीक अपनाने, एवं उद्यमिता के लिए प्रोत्साहित किया. 

सचिन दुबे को अपने इस कार्य के लिए बहुत से पुरष्कार राष्ट्रिय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मिल चुके हैं और अभी हाल ही में हेल्थ केयर स्टार्ट अप की एक प्रतियोगिता में उन्होंने २०० प्रतिभागियों में प्रथम स्थान प्राप्त किया है. कार्यक्रम में कनाडा से शोध उपाधि प्राप्त सिरामिक तकनीक विशेषज्ञ डा. राहुल लोढ़ा एवं प्रवंधन विशेषज्ञ डा. राजेश भट ने भी अपने विचार रखे. 

वर्धमान इंफोटेक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दर्शन कोठारी ने कार्यक्रम का सञ्चालन करते हुए अतिथियों को फल की टोकरी भेट कर स्वागत किया। उन्होंने बताया की वर्धमान इंफोटेक ई-कॉमर्स एवं मोबाईल (एंड्राइड व आई फोन) एप्लिकेसन डेवलपमेंट की अग्रणी कंपनी है.

Vardhaman Infotech

eCommerce and Mobile Application development 
Jaipur, Rajasthan, India
E-mail: info@vardhamaninfotech.com

एंड्राइड एप्लिकेसन डेवलपमेंट में अपार सम्भावनाएं

Entrepreneurship and managerial skills Development program at Vardhaman Infotech

  

No comments:

Post a Comment